9 करोड़ सालाना सैलरी पाने वाला सिटी ग्रुप का भारतवंशी बैंकर सैंडविच चुराता था, बैंक ने निलंबित किया

By | February 6, 2020

लंदन. ऑफिस की कैंटीन से सैंडविच चुराना 31 साल के बैंकर पारस शाह के लिए महंगा पड़ा। उनका सालाना पैकेज 9 करोड़ रुपए (1 मिलियन पाउंड) से ज्यादा का है।इन्वेस्टमेंट बैंक सिटीग्रुप ने जांच के बाद पारस को निलंबित कर दिया है। वे यूरोप, मिडल ईस्ट और अफ्रीका में सिटी ग्रुप के हेड थे।

फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, बैंक ने पारस को कई आरोपों के बाद निलंबित कर दिया, जिनमें से लंदन हेडक्वॉर्टर की कैंटीन से खाना चुराना (सैंडविच) भी शामिल है। हालांकि, यह पता नहीं चल पाया है कि पारस ने कैंटीन से कितनी बार और कितने सैंडविच चुराए या कथित रूप से खाना चुराने का मामला कब सामने आया। ब्रिटिश मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले पर न सिटी बैंक और न पारस शाह ने अपना पक्ष रखा है।

2010 में ग्रेजुएशन किया था

  • लिंक्डइनप्रोफाइल के मुताबिक, शाह ने इकोनॉमिक्स में 2010 में यूनिवर्सिटी ऑफ बाथ से ग्रेजुएशन किया है। उनकी सिक्युरिटीज, ट्रेडिंग और रिस्क मैनेजमेंट में अच्छी दखल है। वह सिटीबैंक ज्वाइन करने के पहले सातसाल तक एचएसबीसी से जुड़े रहे। उनका यह निलंबन उस वक्त हुआ जब बैंक के स्टाफ के वार्षिक बोनस का भुगतान होना है।
  • डेली मेल के रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऐसा ही एक मामला 2016 में सामने आया था। जब एक जापानीबैंकर को अपनी साथी की बाइक चुराने के आरोप में बैंक से निकाल दिया गया था। इसी तरह 2014 में ब्लैकरॉक एसेट मैनेजमेंट इन्वेस्टर सर्विस के एमडी को ट्रेन टिकट नहीं खरीदने के आरोप में ब्रिटिश फाइनेंशल सेक्टर वरिष्ठ पद परसेवाएं देने पर रोक लगा दी थी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पारस की सिक्युरिटीज, ट्रेडिंग और रिस्क मैनेजमेंट में अच्छी दखल है।

Share it

Thanks you for visit.